Immam Husen and Karbala War: जानिए कब और कैसे शहीद हुए थे इमाम हुसैन

Pocket

Imam Hussain and Battle of Karbala, History in Hindi : मुहर्रम मुस्लिम कैलेंडर का पहला महीना है। इस महीने में इमाम हुसैन की शहादत को याद किया जाता है। याजीद की सेना के विरुद्ध जंग लड़ते हुए इमाम हुसैन के पिता हजरत अली का संपूर्ण परिवार मौत के घाट उतार दिया गया था और मुहर्रम के दसवें दिन इमाम हुसैन भी इस युद्ध में शहीद हो गए थे।

मुहर्रम के दसवें दिन ही मोहरर्म मनाया जाता है जिसमें मुस्लिम संप्रदाय द्वारा ताजिए निकाले जाते हैं। लकड़ी, बांस व रंग-बिरंगे कागज से सुसज्जित ये ताजिए हजरत इमाम हुसैन के मकबरे के प्रतीक माने जाते हैं। इसी जुलूस में इमाम हुसैन के सैन्य बल के प्रतीक स्वरूप अनेक शस्त्रों के साथ युद्ध की कलाबाजियां दिखाते हुए लोग चलते हैं।

इस्लाम के बारे में रोचक बातें, सुनोगे तो हैरान हो जाओगे

मुहर्रम के जुलूस में लोग इमाम हुसैन के प्रति अपनी संवेदना दर्शाने के लिए बाजों पर शोक-धुन बजाते हैं और शोक गीत (मर्सिया) गाते हैं। मुस्लिम संप्रदाय के लोग शोकाकुल होकर विलाप करते हैं और अपनी छाती पीटते हैं। इस प्रकार इमाम हुसैन की शहादत को याद किया जाता है।

imam husen ke bare me
imam husen ke bare me

सिर्फ 8 दिन में ही उजड़ गई थी कर्बला की बस्ती

Imam Hussain and Battle of Karbala :-कर्बला का नाम सुनते ही मन खुद-ब-खुद कुर्बानी के ज़ज्बे से भर जाता है। जब से दुनिया का वजूद कायम हुआ है, तब से लेकर अब तक न जानें कितनी बस्तियां बनीं और उजड़ गईं, लेकिन कर्बला की बस्ती के बारे में ऐसा कहते हैं कि यह बस्ती सिर्फ 8 दिनों में ही तबाह कर दी गई। 2 मुहर्रम 61 हिजरी में कर्बला में इमाम हुसैन के काफिले को जब याजीदी फौज ने घेर लिया तो हुसैन साहब ने अपने साथियों से यहीं खेमे लगाने को कहा और इस तरह कर्बला की यह बस्ती बसी।

आखिर मुस्लिम लोग सिर्फ दाढ़ी ही क्यों रखते हैं मुछ क्यों नहीं, इसके पीछे का राज आप जानकर हो जाओगे हैरान

Imam Hussain and Battle of Karbala :-इस बस्ती मे इमाम हुसैन के साथ उनका पूरा परिवार और चाहने वाले थे। बस्ती के पास बहने वाली फुरात नदी के पानी पर भी याजीदी फौज ने पहरा लगा दिया। 7 मुहर्रम को बस्ती में जितना पानी था, सब खत्म हो गया। 9 मुहर्रम को याजीदी कमांडर इब्न साद ने अपनी फौज को हुक्म दिया कि दुश्मनों पर हमला करने के लिए तैयार हो जाए। उसी रात इमाम हुसैन ने अपने साथियों को इकट्ठा किया। तीन दिन का यह भूखा, प्यासा कुनबा रात भर इबादत करता रहा।

इसी रात (9 मुहर्रम की रात) को इस्लाम में शबे आशूर के नाम से जाना जाता है। दस मुहर्रम की सुबह इमाम हुसैन ने अपने साथियों के साथ नमाज़-ए-फ़र्ज अदा किया। इमाम हुसैन की तरफ से सिर्फ 72 ऐसे लोग थे, जो मुक़ाबले में जा सकते थे। यजीद की फौज और इमाम हुसैन के साथियों के बीच युद्ध हुआ, जिसमें इमाम हुसैन अपने साथियों के साथ नेकी की राह पर चलते हुए शहीद हो गए और इस तरह कर्बला की यह बस्ती 10 मुहर्रम को उजड़ गई।

about islam news
about islam news

जानिए, कौन था कर्बला का पहला शहीद

इस्लामी कैलेंडर का पहला महीना मुहर्रम इमाम हुसैन की याद दिलाता है। इमाम हुसैन ने खुदा की राह पर चलते हुए बुराई के खिलाफ कर्बला की लड़ाई लड़ी थी, जिसमें इमाम हुसैन अपने साथियों के साथ शहीद हुए थे। इस लड़ाई की सबसे पहला शहीद था इमाम हुसैन का छ: माह का बेटा अली असगर।

इस्लाम से जुड़ी खास बातें | Facts About Islam

Imam Hussain and Battle of Karbala :-जब याजीदी फौज ने कर्बला की बस्ती के पास बहने वाली फुरात नदी के पानी पर पहरा लगा दिया तो इमाम हुसैन के साथियों और परिवार का पानी के बिना बुरा हाल हो गया, लेकिन वे नेकी की राह से नहीं हटे। इमाम हुसैन के 6 माह के बेटे अली असग़र का जब प्यास से बुरा हाल हो गया, तब अली असग़र की मां सय्यदा रबाब ने इमाम से कहा कि इसकी तो किसी से कोई दुश्मनी नहीं है, शायद इसे पानी मिल जाए। जब इमाम हुसैन बच्चे को लेकर निकले और याजीदी फौज से कहा कि कम से कम इसे तो पानी पिला दो।

islam ke rochak rahsya
islam ke rochak rahsya

Imam Hussain and Battle of Karbala :- इसके जवाब में यजीद के फौजी हरमला ने इस 6 माह के बच्चे के गले का निशाना लगा कर ऐसा तीर मारा कि हज़रत अली असग़र के हलक को चीरता हुआ इमाम हुसैन के बाज़ू में जा लगा। बच्चे ने बाप के हाथ पर तड़प कर अपनी जान दे दी। इमाम हुसैन के काफिले का यह सबसे नन्हा व पहला शहीद था।

You May Also Like

bihar teacher vacancy 2019

Bihar Teacher Vacancy 2019: 1.4 lakh vacancies of teachers in Bihar

Bihar Teacher Vacancy 2019: The Bihar government will complete the process of filling vacancies of teachers till November. According to ...
Read More
download super 30

Download Super 30 Full Hindi Movie – Hrithik Roshan

Download Super 30 full hindi movie :- कंगना रनौत की फिल्म क्वीन से विकास बहल जबरदस्त सुर्खियां बटोरने में कामयाब ...
Read More
ind vs nz dhoni run out

अंपायर की इस गलती से सेमीफाइनल में हारा भारत, विवादों में आया धोनी का रनआउट

Umpiring error cost dhoni :- सांस थाम देने वाले पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारकर टीम इंडिया विश्व कप 2019 ...
Read More
india loss semifinal

IND vs NZ Semifinal: इन चार ‘बड़े कारणों’ के चलते हुई भारत की सेमीफाइनल में हार

India loss semifinal : किसी  ने भी ऐसी उम्मीद नहीं की थी कि इस नॉकआउट मुकाबले में भारत का प्रदर्शन ...
Read More
gb road red light area

GB Road Girls Rate | GB Road Delhi | GB Road Live Video

GB Road Girls Rate :-रात 8 बजे के बाद G B Road का माहौल बदल जाता है. कोठे पर आने वालों ...
Read More
zealand-cricket-world-cup-semi-final-india

न्यूजीलैंड के गेंदबाजी कोच का बयान वायरल, कहा- भारतीय मिडिल ऑर्डर को ध्वस्त कर देंगे

भारत और न्यूजीलैंड  के बीच खेले जा रहे विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में बारिश ने खलल डाल दिया, जिसके कारण ...
Read More
Semifinal IND vs NZ

Semifinal IND vs NZ : बारिश ने रोक दिया खेल, जानें- अब कैसे निकलेगा मैच का नतीजा

Semifinal IND vs NZ :- आज बारिश नहीं थमी और मैच पूरी नहीं हो पाया. ऐसे में अब बुधवार को ...
Read More
india vs new zealand

अगर बारिश के कारण भारत-न्यूजीलैंड सेमीफाइनल रद्द हुआ तो ये ‘दो विकल्प’ होंगे

India vs New Zealand Semifinal: हिंदुस्तानी और कीवी क्रिकेटप्रेमी अपनी-अपनी टीमों की चर्चा भी कर रहे हैं. अपनी-अपनी पसंदीदा इलेवन ...
Read More
rrb paramedical exam details

RRB Paramedical Exam Details: Details of RRB Paramedical Examination will be issued today

RRB Paramedical Exam Details :- Every information related to the RRB Paramedical Recruitment Examination will be released on the website of ...
Read More
india vs new zealand semi final match

महामुकाबला आज, न्यूजीलैंड की इस तिकड़ी से बच गई टीम इंडिया तो फाइनल का टिकट पक्का

Ind vs Nz semi final Match :-टीम इंडिया को इस मैच में जीत हासिल करनी है तो विराट ब्रिगेड को ...
Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *